thursday , september 21, 2017
Follow us on
LATEST HEADLINES
भारत ने अंग्रेजों को 4-0 से रौंदा, नायर 'मैन ऑफ द मैच'वित्तमंत्री ने किया छोटे दुकानदारों के लिए नई स्कीम का ऐलानट्रंप को रिझाने की कोशिश में मोदी! अमेरिकी एनएसए से मिले अजित डोभाल पाक छोड़ने में पूर्व सेना प्रमुख शरीफ ने की मदद: मुशर्रफपीएम के कपड़ों की तरह नियम बदल रहा RBI: राहुल गांधीलोकलुभावन रेल बजट के दिन गए, मुफ्त नहीं मिलेगी रेल सेवाएंनोटबंदी के बीच चंडीगढ़ में भाजपा को बड़ी कामयाबी, 26 में से 21 सीटें जीतीं दोबारा चलन में आएंगे छापे में पकड़े गए 100 करोड़ के नए नोट Flexi Fare: करंट रिजर्वेशन कराने वालों को मिलेगी 10 फीसदी छूट सायरस के जाने से टाटा को हुआ 10 बिलियन डॉलर का नुकसान
लुधियाना/राजीव त्रिखा

सेंट्रल जेल में खाना खाने को लेकर आपस में भिड़े 2 हवालाती

टीम डिजिटल/ ( दैनिक उजाला, लुधियाना) september 21, 2017 08:30 pm
Reported By : राजीव त्रिखा, लुधियाना

ਲੁਧਿਆਣਾ,21 ਸਤੰਬਰ(राजीव त्रिखा):सेंट्रल जेल में वीरवार देर शाम वक़्त करीब 7 बजे खाना खाते वक़्त 2 हवालाती आपस में भीड़ गए जिसमे एक ने दूसरे को कोहनी से बुरी तरह मारपीट की आस पास के हवालातीयो ने बीच बचाव किया। शोर सुनकर जेल के पुलिस मुलाजीमो ने ज़ख़्मी व्यक्ति को जेल के सिविल हस्पताल दाखिल करवाया। ज़्ख़्मी हवालाती के जबड़ा हिल जाने पर जेल के हस्पताल से जख्मी को सिविल हस्पताल रेफर कर दिया। सिविल हस्पताल के डॉक्टर ने ज़ख़्मी हवालाती को पटियाला के राजिंदरा हस्पताल रेफर कर दिया। ज़्ख़्मी हवालाती की पहचान खन्ना के रहने वाले लाला (35) के रूप में हुई।सिविल हस्पताल में इलाज के दौरान लाला का कहना है कि वीरवार शाम बैरक में खाना खाते वक़्त साथ के एक युवक ने मारपीट की है। उसका कहना है कि वहां पर मजूद हवालातीयो ने बचाव किया और जेल पुलिस को सूचना दी, जेल के मुलाजीमो ने उसे जेल हस्पताल पुहचाया जहा से उसको गंभीर चोटे होने कारण जेल के डॉक्टर ने सिविल हस्पताल रेफर कर दिया। उसका कहना है कि सिविल के डॉक्टर ने उसको इलाज के लिए पटियाला के राजिंदरा हस्पताल रेफर कर दिया है।

लुधियाना/राजीव त्रिखा

सिविल हॉस्पिटल में हाईटैक मोर्चरी बनाने के लिए 60 लाख रु खर्च कर रही है संवेदना संस्था

टीम डिजिटल/ ( दैनिक उजाला, लुधियाना) september 21, 2017 08:30 pm
Reported By : राजीव त्रिखा, लुधियाना

ਲੁਧਿਆਣਾ,21 ਸਤੰਬਰ(राजीव त्रिखा): संवेदना संस्था सिविल हॉस्पिटल में एक हाईटेक मोर्चरी बनाने जा रही है मोर्चरी में एक समय 46 शवो को फ्रिज किया जा सकता है, फ्रिज के अंदर का तापमान माइनस डिग्री होगा,जिस कमरे में फ्रीज़र होंगे उस का तापमान भी 0 से 5 डिग्री तक रहेगा,दीवारों पर स्टील की मोटी चादर लगाई जा रही है,इस कोल्ड रूम मोर्चरी के अंदर 19 फुट लंबे व 23 फुट चौड़े हाल में बनाया जा रहा है,रूम को तैयार करने के लिए संवेदना संस्था 60 लाख रु खर्च कर रही है,इस से पहले भी सिविल हॉस्पिटल में 16 शवो को रखने के लिए फ्रीज़र है,ज्यादातर समय फ्रीज़र खराब होने की वजह से शवो को मोर्चरी के अंदर खुले में ही रखा जाता है,शहर के कई निजी हॉस्पिटलों में भी मोचेरी बनी हुई है,जहाँ पर 24 घंटे शव को रखने के लिए निजी हॉस्पिटल प्रशासन लोगो से रुपए ऎंठते है,शव को बेकद्री होने से रोकने के लिए वे रुपए खर्च करने को विवश होते है