friday, june 9, 2017
Follow us on
LATEST HEADLINES
भारत ने अंग्रेजों को 4-0 से रौंदा, नायर 'मैन ऑफ द मैच'वित्तमंत्री ने किया छोटे दुकानदारों के लिए नई स्कीम का ऐलानट्रंप को रिझाने की कोशिश में मोदी! अमेरिकी एनएसए से मिले अजित डोभाल पाक छोड़ने में पूर्व सेना प्रमुख शरीफ ने की मदद: मुशर्रफपीएम के कपड़ों की तरह नियम बदल रहा RBI: राहुल गांधीलोकलुभावन रेल बजट के दिन गए, मुफ्त नहीं मिलेगी रेल सेवाएंनोटबंदी के बीच चंडीगढ़ में भाजपा को बड़ी कामयाबी, 26 में से 21 सीटें जीतीं दोबारा चलन में आएंगे छापे में पकड़े गए 100 करोड़ के नए नोट Flexi Fare: करंट रिजर्वेशन कराने वालों को मिलेगी 10 फीसदी छूट सायरस के जाने से टाटा को हुआ 10 बिलियन डॉलर का नुकसान
लुधियाना(त्रिखा)

मध्य प्रदेश् में फायरिंग से मारे गये किसानों की मौत के रोष में इंटुक ने खोला मोर्चा

टीम डिजिटल/ ( दैनिक उजाला,लुधियाना) june 09, 2017 02:30 pm
Reported By : राजीव त्रिखा,लुधियाना

लुधियाना(त्रिखा)आज जमालपुर चौक में इंटुक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पंजाब प्रदेश् इंटुक के प्रधान जसमिन्दर सिंह संधु नेतृत्व में किसान विरोधी सरकार के खिलाफ नरेंद्र मोदी और शिवराज चौहान का पुतला फूंका गया। और मांग है कि जो किसान मारे गए है उनको कम से कम 50 लाख का मुआव्जा और परिवार के एक मेंबर को सरकारी नोकारी दी जाये किसानों की फसल का भाव स्वामी नाथन कमीशन की सिफारिश के साथ जोड़ा जाना चाहिए और जिला अध्यक्ष डॉ प्रदीप अग्रवाल ने कहा कि किसान विरोध में जिस तरह से मध्यप्रदेश में किसानों की हत्या की गई व कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल जी गांधी जी को मृतक परिवारों से मिलने से पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया वह किसान परिवारों से नहीं मिलने दिया गया किस तरह से लोकतंत्र की हत्या की गयी इस मौके पर इंटुक महिला प्रधान अनीता शर्मा ने कहा कि किसानों की मांगे पूरी होनी चाहिए जिसमे किसानों का करझा माफ होना चाइए मालवा प्रधान जोगिन्दर सिंह टाइगर,शीला मसीह नेशनल मेंबर,फिरोज मास्टर प्रदेश् जनरल सेक्टरी,रविंदर कौर थापर देहाती महिला प्रधान, दीपक उप्पल बिंदी गिल इक़बाल सिंह कालसी,विशाल पराशर मनप्रीत कौर थापर,,परमजीत सिंह,,मनिंदर मोनी,भगवन सिंह,स्वर्ण कैर,बलजीत कौर,नेहा सिंह मिंटू बंसल सतनाम सिंह अनुज कुमार रानी बबली,राज सिंह, गुरबीर हरा,डॉ शह झा,जॉनी,मोहम्मद आलकित,मोहम्मद मक़सूद कोमल, पवन हंस सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पुतला फूंक कर अपना विरोध जताया