sunday, september 10, 2017
Follow us on
LATEST HEADLINES
भारत ने अंग्रेजों को 4-0 से रौंदा, नायर 'मैन ऑफ द मैच'वित्तमंत्री ने किया छोटे दुकानदारों के लिए नई स्कीम का ऐलानट्रंप को रिझाने की कोशिश में मोदी! अमेरिकी एनएसए से मिले अजित डोभाल पाक छोड़ने में पूर्व सेना प्रमुख शरीफ ने की मदद: मुशर्रफपीएम के कपड़ों की तरह नियम बदल रहा RBI: राहुल गांधीलोकलुभावन रेल बजट के दिन गए, मुफ्त नहीं मिलेगी रेल सेवाएंनोटबंदी के बीच चंडीगढ़ में भाजपा को बड़ी कामयाबी, 26 में से 21 सीटें जीतीं दोबारा चलन में आएंगे छापे में पकड़े गए 100 करोड़ के नए नोट Flexi Fare: करंट रिजर्वेशन कराने वालों को मिलेगी 10 फीसदी छूट सायरस के जाने से टाटा को हुआ 10 बिलियन डॉलर का नुकसान
कुरुक्षेत्र(राकेश शर्मा)

ई ट्रडिंग के तुगलकी फरमान को तुरंत वापिस से सरकार : लाभ सिंह

टीम डिजिटल/ ( दैनिक उजाला,लुधियाना) september 10, 2017 04:30 pm
Reported By : राकेश शर्मा,

अगर सरकार ने ई ट्रेडिंग के तुगलकी फरमान को नहीं बदला तो प्रदेश भर में मंडियों को व्यापारी बंद करने का निर्णय लेने पर मजबुर बाबैन, 10 सितंबर राकेश शर्मा बाबैन अनाजमंडी में आढतियों ने ई ट्रेडिंग का विरोध करते हुए कहा कि सरकार आढतियों व किसानों के आपसी भाईचारे को खराब करने का काम कर रही है जबकि ई ट्रेडिंग व्यापारी व किसान के हित में नहीं है अगर सरकार यह काला कानुन लागु करेगी तो व्यापारी किसी भी तरह का संर्घष करने से पिछे नहीं हटेंगे। उपरोक्त शब्द बाबैन अनाजमंडी के प्रधान लाभ सिंह अंटाल ने अपने कार्यालय पर व्यापारियों की बैठक करने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहे। उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने ई ट्रेडिंग के तुगलकी फरमान को नहीं बदला तो व्यापारियों को प्रदेश भर में मंडियो को बंद करने का निर्णय लेने पर मजबुर होना पडेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार व्यापारी विरोधी सरकार है और सरकार के इस निर्णय से व्यापारी बर्बाद होंगे। उन्होंने कहा कि किसान अपनी फसल तैयार करने के लिए व्यापारी से अडवांस लेता है और ई ट्रेडिंग से किसान व व्यापारी का सदियों पूराना भाईचारा खराब होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के व्यापारी व किसान वर्ग में ई ट्रडिंग को लेकर भारी रोष पनप रहा है और सरकार को व्यापारी व किसान वर्ग के हित को देखते हुए ई ट्रेडिंग के फैंसले को तुरंत वापिस लेना चाहिए। इस मौके पर बलदेवराज सेठी, राज मक्कड, पवन सिंह , विनोद ङ्क्षसगला, मोहन लाल, मा. रणधीर सिंह , ओम प्रकाश बवेजा, राजेश छलौंदी, नरंजन सिंह रामपुरा, सतबीर रामपुरा, अवतार सिंह , जितेंद्र सिंह मौजूद रहे।